अंग्रेजी व्याकरण को हिन्दी भाषा में मुफ्त एवँ सरलता पूर्वक सीखें!

वीडियो आधारित पाठ, अभ्यास और शब्दावली के साथ एक व्यापक और व्यवस्थित र्इ-लर्निंग वेबसाइट।

इंग्लिश विंग्लिश क्यों?

एक सफल पुस्तक ‘लर्न इंगलिश’ पर आधारित

go to link यह वेबसाइट स्वर्गीय श्री नेहपाल सिंह तँवर द्वारा लिखी गर्इ एक अत्यंत सफल पुस्तक ‘लर्न इंगलिश’ पर आधारित है। इस पुस्तक से लाखों छात्र लाभ उठा चुके हैं और अब आप भी लाभ उठा सकते हैं।

हिंदी का अंग्रेजी अनुवाद करने की सरल शैली

see वेबसाइट में हिंदी से अंग्रेजी भाषा के अनुवाद पर विशेष जोर दिया गया है। अभ्यास करने और आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हजारों प्रश्न दिए गए हैं।

समस्त वीडियो पाठ सरल हिन्दी भाषा में सीखें

http://fophs.org/wp-content/plugins/cherry-plugin/admin/import-export/upload.php यह आसान है। आप बेहतर अंग्रेजी पढ़ने, लिखने और समझें इसीलिए हमने इंग्लिश विंग्लिश वेबसाइट को नर्इ विधियों के आधार पर डिजाइन किया है जो आपको अपनी ही भाषा में सरलता से सीखने में मदद करेगी।

अपनी प्रगति की समीक्षा करें

आप अपनी प्रगति की समीक्षा कर सकते हैं, अभ्यास और शब्दावली डाउनलोड कर सकते हैं और अपनी भाषा कौशल सुधारने के लिए निरंतर अभ्यास कर सकते हैं।

हजारों सवालों का अभ्यास करें

order spemanns करत-करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान । रसरी आवत-जात के, सिल पर परत निशान । इंग्लिश विंग्लिश वेबसाइट पर हजारों प्रश्न दिए गए हैं जो आपको आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करेंगे।

सिद्धांतों पर पकड मजबूत करें

सिद्धांतों की अच्छी समझ और निरंतर अभ्यास के साथ आप अंग्रेजी भाषा पर पकड मजबूत कर सकेंगे और जीवन के हर क्षेत्र में सफल होंगे।

सैम्पल वीडियो पाठ का परीक्षण करें

Images of school children in India

मुफ्त में अंग्रेजी सीखें

अपनी स्वयं की गति पर और अपनी ही भाषा में अंग्रेजी सीखें

हमारे संस्थापक से मिलिए - अधिप तँवर

इस वेबसाइट की परिकल्पना अधिप तँवर ने की है। अधिप ‘लर्न इंगलिश’ पुस्तक के लेखक स्वर्गीय श्री नेहपाल सिंह तँवर के परपौत्र हैं। अधिप का जन्म अपने परदादा के दुखद निधन के पश्चात हुआ, अत: उनसे व्यक्तिगत रूप से बात-चीत का मौका नहीं मिला परंतु वह पुस्तक के अंदाज़, अंत:वस्तु और सफलता से अत्यधिक प्रेरित हुआ। वह खुद बचपन के दिनों में ‘लर्न इंगलिश’ पुस्तक से व्यापक व भावनात्मक रूप से जुड़ा। अधिप को पूर्ण विश्वास है कि इस पुस्तक की प्रासंगिकता वर्तमान में भी उतनी ही महत्त्वपूर्ण है क्योंकि आज भी हिंदी भाषी क्षेत्र के बहुतायत जनसंख्या को अंग्रेज़ी भाषा की कोर्इ विशेष समझ नहीं है।

Engive Vinglish
Learn Basic english grammar step by step in hindi

प्रशंसापत्र